ब्लू चिप कंपनी क्या है | ब्लू चिप शेयर्स की खास बातें | Blue Chip Companies in Hindi

Blue Chip Companies in Hindi: स्टॉक मार्केट में निवेश करने वाला हर व्यक्ति कभी न कभी पेनी स्टॉक्स व ब्लू चिप कम्पनी (Blue Chip Companies) के बारे में जरुर सुनता है तो आइये जानते है ये ब्लू चिप शेयर क्या है इससे पहले हमने पेनी स्टॉक्स के बारे में चर्चा कर चुके है |

Blue Chip Companies in Hindi

ब्लू चिप शेयर्स को जानने से पहले हमें ब्लू चिप व ब्लू चिप कंपनी को समझना जरुरी है |

ब्लू चिप कंपनी(Blue Chip Companies)

Blue Chip: अमेरिका के एक खेल पोकर में ब्लू चिप (कॉइन या सिक्का ) शब्द का प्रयोग किया जाता था जिसमे ब्लू चिप सबसे कीमती होता था |

Blue Chip CompaniesShareMarket में ब्लू चिप कम्पनी उन कम्पनी को कहा जाता है जो मिड कैप या लार्ज कैप के अंदर आते  है जिन पर निवेशक का बहुत ज्यादा भरोसा करते है |

ऐसी कम्पनी के शेयर खरीदना निवेशक को रेगुलर लाभ देता है क्योंकि ये कम्पनियां अपने इंडस्ट्री की सबसे टॉप कम्पनियों में से एक होती है |

शेयर बाजार में उतार चढ़ाव आते रहते है तो आज जो कम्पनी Blue chip है वह फ्यूचर में Blue Chip Companies ही हो ऐसा जरुरी नही है |


ब्लू चिप स्टॉक वित्तीय प्रदर्शन के लंबे इतिहास के साथ बहुत बड़ी और अच्छी तरह से मान्यता प्राप्त कंपनियों के शेयर हैं। इन शेयरों को बाजार की कठिन परिस्थितियों को सहन करने और अच्छे बाजार की स्थिति में उच्च रिटर्न देने की क्षमता के लिए जाना जाता है।ब्लू चिप स्टॉक में आम तौर पर उच्च लागत होती है, क्योंकि उनकी अच्छी प्रतिष्ठा होती है और वे अक्सर अपने उद्योगों में बाजार के नेता होते हैं। बाजार पूंजीकरण के अनुसार, आज भारत की प्रमुख ब्लू चिप कंपनियां स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI), भारती एयरटेल, टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (TCS), कोल इंडिया, रिलायंस इंडस्ट्रीज, HDFC बैंक, ONGC, ITC, सन फार्मा, गेल (भारत) हैं। , इंफोसिस, और आईसीआईसीआई बैंक।

Blue Chip Stocks क्या है?

ब्लू चिप कम्पनी व ब्लू चिप शेयर्स एक दुसरे से सम्बंधित है अर्थात शेयर बाज़ार में Blue Chip Companies के शेयर्स को ही ब्लू चिप स्टॉक बोला जाता है |

ब्लू चिप शेयर्स में आपको कुछ विशेषताएं देखने को मिलती है |
जैसेः
  • अपनी इंडस्ट्री का सबसे बढ़ा कम्पनी हो सकती है |
  • मार्केट कैप के आधार पर मिड कैप व लार्ज कैप के अंदर आती है |
  • इन कम्पनियों का मैनेजमेंट और साख अच्छा होता है |
  • ब्लू चिप कम्पनी नियमित तौर पर डिविडेंड की घोषणा करती है |

Blue Chip Stocks से निवेशक को भरोसा

ब्लू चिप कम्पनी पर निवेशक का भरोसा ज्यादा होने कि एक वजह इन कम्पनियों से नियमित तौर पर लाभ पाना है |
ब्लू चिप कम्पनियां में लगातार डिविडेंड दिया जाता है जिससे निवेशक इन कम्पनियों की ओर आकर्षित होते है |

इसमें Liquidity ज्यादा होती है क्योंकि म्यूच्यूअल फंड्स कम्पनियां और Foreign Investor Institutions (FIIs) का ज्यादातर निवेश होता है |

ये भी पढ़े :

स्टॉक ब्रोकर क्या होता है?
बेस्ट स्टॉक ब्रोकर कैसे चुनें?

मल्टीबैगर स्टॉक कैसे ढूंढे ?
बोनस शेयर क्या होता है?

डिविडेंड क्या होता है?
पेनी स्टॉक क्या होता है?

फंडामेंटल एनालिसिस क्या है?
सबसे बेहतर इन्वेस्टमेंट ऑप्शन क्या है ?

बुक वैल्यू क्या है ?
फेस वैल्यू क्या होता है?
स्टॉक स्पिलिट क्या होता है?

अर्निंग पर शेयर (ईपीएस) क्या होता है?
प्राइस अर्निंग/ पीई (PE) रेश्यो क्या है?
शेयर बाजार और म्युचुअल फंड में अंतर क्या है ?

शेयर बाजार में निवेश कैसे करें?

बुल मार्केट व बियर मार्केट क्या है?

Share this :

Previous
Next Post »