Jan 20, 2019

म्युचुअल फंड्स में निवेश कैसे करे - Mutual Funds Investment India

जब लोग पहली बार Mutual Funds Investment करना चाहते है तो उन्हें पता नही होता है कि म्युचुअल फंड्स में निवेश कैसे करे (How to Invest in Mutual Funds India) | आज हम म्युचुअल फंड्स में निवेश के तरीके के बारे में जानेंगे |

Mutual Funds Investment India


म्युचुअल फंड्स में निवेश कैसे करे (Mutual Funds Investment )

म्युचुअल फंड्स में निवेश करना बहुत ही आसान है लेकिन म्युचुअल फंड्स में निवेश आपकी समय व क्षमता के आधार पर निवेश कर सकते है | जिनमें सबसे फेमस है -

  • SIP या Systemetic Investment Plan(सिस्टेमेटिक इन्वेस्टमेंट प्लान )
  • LumpSum Investment (लम्प सम )

अब आपके मन में सवाल आ रहा होगा कि ये दोनों क्या है, आइये इन्हें एक एक करके समझने का प्रयास करें |
इससे पहले मैं म्यूच्यूअल फंड्स के प्रकार के बारे में बताया चूका हूँ |

SIP Investment (SIP निवेश)

सिस्टेमेटिक इन्वेस्टमेंट प्लान अर्थात एक निश्चित समय में इन्वेंस्टमेंट होता  है जैसे एक महीने, दो महीनें , चार महीने  आदि |

अगर आपकी कमाई कम भी है तो आप इस सिस्टम के द्वारा निवेश कर सकते है |

SIP Investment करने के लिए आपको बहुत बड़ी पूंजी की आवश्यकता नही होती है आप 100 रूपये की बचत से अपना SIP investment शुरु कर सकते है लेकिन कई म्यूच्यूअल फंड्स में आपको 500 से शुरु करना होता है |

LumpSum Investment (लम सम निवेश)

जैसा की आपने जाना कि SIP Investment करने के लिए आपको बहुत बड़ी पूंजी की आवश्यकता नही होती है लेकिन जब आप लम्प सम निवेश में आपके पास बड़ी पूंजी का होना आवश्यक है |
जैसेः एक लाख , दो लाख , तीन लाख या इससे ज्यादा आदि |

आसान शब्दों में : जब आपके पास एकमुश्त एक लाख , दो लाख , तीन लाख या इससे ज्यादा की राशि हो तो आप  लम्प सम निवेश कर सकते  है |

ये हमारे FD(फिक्स्ड डिपॉजिट्स ) की तरह होता है जिसमे एक साथ व एकमुश्त पैसा जमा कराना होता है |

Disadvantage of LumpSum Investment  (लम सम निवेश में हानि)

  • एकमुश्त पैसो (एक लाख, दो लाख ) की जरुरत होती है |
  • बाजार गिरा तो आपका पैसा डूबने की सम्भावना ज्यादा है |
आशा करता हूँ आपको Mutual Funds Investment पता चल गया होगा |
Disqus Comments