Mutual Fund in Hindi - म्युचुअल फण्ड क्या है और इसमें पैसे लगाने के क्या फ़ायदे है

फ़रवरी 06, 2022
म्युचुअल फण्ड क्या है ? अगर यह सवाल आप मुझसे चार - पांच साल पहले पूछते तो मैं आपको यह नहीं बता पाता, लेकिन शुक्र है इंटरनेट और संयोग का, कि मुझे पर्सनल फाइनेंस से जुड़ा एक बहुत ही शानदार बुक मिला (रिच डैड पुअर डैड ), जिसमें यह बताया गया कि हम कैसे अपने पैसे से काम करा सकते है और उससे पैसे कमा सकते है और फिर मैंने उस दिन से फाइनेंसियल विषयों के बारे में सीखना शुरू किया, जिसमें म्युचुअल फण्ड भी एक है |

म्युचुअल फण्ड क्या है ( What is Mutual Fund in Hindi)


म्यूचुअल फंड, अपने पैसे को इन्वेस्ट करके रिटर्न कमाने का एक ऑप्शन है जिसमें बहुत सारे अलग अलग इन्वेस्टर्स से पैसा इकट्ठा करके, उस पैसे से सोना, ज़मीन, बांड या कंपनियों का शेयर खरीदा जाता है और फिर होने वाले फ़ायदे को उन्हीं इन्वेस्टर्स के बीच में बांटा जाता है जिन्होंने अपने पैसे लगाये है |

म्युचुअल फण्ड इन दिनों काफी पोपुलर हो रहा है क्योंकि यह अन्य ट्रेडिशनल निवेश जैसेः सोना, जमीन जायदाद, फिक्स्ड डिपोजिट आदि से ज्यादा रिटर्न देने की क्षमता रखता है, और म्युचुअल फण्ड में लॉन्ग टर्म में औसतन 14% का रिटर्न कमाया जा सकता है |

म्युचुअल फण्ड में जब कोई  निवेश करता है तो उसे म्यूच्यूअल फण्ड का यूनिट दिया जाता है | यह म्युचुअल फण्ड यूनिट, इन्वेस्टर्स को उनके लगायें गए पैसों के आधार पर मिलता है, जो ज्यादा पैसा लगाता है उसे ज्यादा म्युचुअल फण्ड यूनिट मिलता है और जो कम पैसा लगाता है उसे कम  म्युचुअल फण्ड यूनिट मिलता है |

म्युचुअल फण्ड की एक खास बात यह भी है कि इसमें कोई भी इन्वेस्ट कर सकता है, और कम पैसों जैसे 500 - 1000 रुपयों से भी इन्वेस्ट कर सकता है  और अपने फाइनेंसियल लक्ष्यों को प्राप्त कर सकता है | 

म्युचुअल फण्ड में पैसा लगाने के क्या फायदें है

चक्रवृद्धि ब्याज़ - म्यूचुअल फंड में निवेश करके चक्रवृद्धि ब्याज (रिटर्न) कमा सकते हैं, एक अच्छा म्यूचुअल फंड, लॉन्ग टर्म में औसतन 14% का रिटर्न दे सकता है , जो फ़िक्स्ड डिपॉज़िट के ब्याज से ज्यादा है|

लचीलापन - म्यूचुअल फंड में लगे पैसों को, आप कभी भी, व कहीं से भी निकाल सकते है, पैसा 3 से 5 दिन के भीतर आपके अकाउंट में जमा हो जाता है |

पारदर्शी -.म्यूचुअल फंड में लगे आपके पैसों को, आप रोजाना, महीने, साल में कभी भी देख या चेक कर सकते है

प्रोफेशनल मेनेजर - हर म्यूचुअल फंड को मैनेज करने के लिए एक एक्सपर्ट फंड मैनेजर होता है जो अपने अनुभव से पैसे को सही जगह पर इन्वेस्ट करके इन्वेस्टर्स को रिटर्न दिलाता है |

कम पैसों से शुरुआत - कम पैसों से भी म्यूचुअल फंड में निवेश करके अपने फाइनेंशियल लक्ष्य को पाया जा सकता है, आप इसमें 500-1000 रुपए से शुरुआत कर सकते हैं |

डाइवर्सीफिकेशन - म्यूचुअल फंड का पैसा गोल्ड, ज़मीन, बॉन्ड, कंपनियों के शेयरों में लगता है जिससे रिस्क सभी में बंट जाता है | क्योंकि एक साथ जमीन, या सोना या शेयर का दाम नहीं गिर सकता है |

टैक्स लाभ - म्यूचुअल फंड में निवेश करके टैक्स छूट का फ़ायदा उठा सकते हैं, इनकम टैक्स के सेक्शन 80C के माध्यम से 1.5 लाख तक म्यूचुअल फंड के ईएलएसएस (ELSS) फंड में निवेश करके टैक्स छूट ले सकते हैं |

सुरक्षित निगरानी - सभी म्यूचुअल फंड को भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड (SEBI) निगरानी करती है, जो इन्वेस्टर्स के पैसों के साथ धोखाधड़ी न हो इसका पूरा ध्यान रखती हैं, और यदि कोई धोखाधड़ी करता है तो उन पर कड़ी कानूनी कार्यवाही भी करती हैं |

तो म्युचुअल फण्ड क्या है, अब यह आपकों किसी से पूछने के जरूरत नहीं है, मेरे ख्याल से अब आप चार लोगों को बता सकते है कि म्युचुअल फण्ड क्या है और इसके क्या फायदे है |

Share this :

Previous
Next Post »