Showing posts with label Personal Finance. Show all posts
Showing posts with label Personal Finance. Show all posts

Jul 27, 2019

बचत कैसे करें | How to Save Money in Hindi

Leave a Comment
How to Save Money in Hindi:बचत कैसे करें ? इसे जाननें से पहले आपको ये जानना जरुरी है कि पैसों की जरुरत हमें हर वक्त होती है | पैसों के बिना हम दैनिक जरुरत की समान भी खरीद नही सकते है | इसलिए आपको पहले से तैयार होना जरुरी है |

How to save money in hindi

आप बचत करके अपने भविष्य के लिए पैसें इक्कठे करते है | लेकिन बचत करने से पहले आपको दो चीज समझनी है - पहला आपकी जरूरत | दूसरा आपकी इच्छाओं को | क्योकिं बचत का बीज इन्ही दोनों के बीच में बोया जाता है |

How to Save Money

आज मैं आपको एक तरीकें के बारे में बताऊंगा जो आपको पैसें बचाने में मदद करेगी, और आपको इसके लिए ज्यादा कुछ करने कि जरूरत भी नही होगी | यह तरीका बहुत ही प्रभावशाली है, अगर आपने इसे अपना लिया तो आप आसानी से बचत करनें कि आदत व अनुशासन बना लेंगे |

एक गाँव में एक लड़की रहती थी, जो रोजाना अपने परिवार के लिए खाना बनाती थी | लड़की खाना बहुत मस्त बनाती थी | सब घरवाले उसकी तारीफ़ करते नही थकते थे|

लड़की होशियार भी थी | वह जानती थी कि कभी-कभी घर में चावल की कमी हो जाती है, इसलिए वह जब सभी के लिए खाना बनाती तो थोड़ा सा चावल, सभी के खुराक वाले बर्तन से निकालकर अलग बर्तन में रख देती थी |

और इससे परिवार वालों को कोई फर्क भी नहीं पड़ता था | वे रोजाना भर पेट खाना खाते थे | पर रोज थोड़ा सा चावल निकाल करके रखने से वह लड़की महीनें में दो किलो चावल बचा लेती थी | जो उसके परिवार के लिए दो दिन का खुराक था |

टिप:  इसी प्रकार अगर आप भी उस लड़की की तरह रोजाना अपनें खर्चों से 10 रूपये भी बचाते है तो आप एक महीने में लगभग 300 रूपये बचा लेंगे | आप 10 रूपये को आपकी इच्छानुसार बढ़ा सकते है | इस तरीके से आप जितना चाहें उतना बचा सकते है | आपको इसका पता भी नही चलेगा की आप बचत भी करते है | और आपके पास बहुत सारे पैसे इक्कठे हो जायेंगे |


अंतिम: अगर आप गैर-जरुरी चीजों पर खर्च न करके, उन पैसों कि बचत करते है तो एक समय ऐसा आएगा जब आपके पास बहुत सारें पैसें होंगे | लेकिन बचत करने के बाद आपको उन पैसों को निवेश करना होगा, जिससें पैसें भी आप के लिए कमाना शुरू कर देंगे | और इससे आपके पास आय के दो सोर्स (  स्त्रोत ) हो जायेंगे |

Read More

Jul 20, 2019

पॉवर ऑफ़ कंपाउंडिंग क्या है | Power Of Compounding in Hindi

पॉवर ऑफ़ कंपाउंडिंग ( Power Of Compounding ) जिसे दुनिया का आठवां अजूबा कहा जाता है | आज सब कोई ये नही जानते है कि हम पॉवर ऑफ़ कंपाउंडिंग ( Power Of Compounding ) का प्रयोग करके कैसे अपने जीवन में सफलता की ओर आगे बढ़ सकते है?

Power Of Compounding in Hindi


Power Of Compounding

पॉवर ऑफ़ कंपाउंडिंग ( Power Of Compounding ) के बारे में दुनिया के महान वैज्ञानिक अल्बर्ट आइन्स्टीन ने कहा: "Compound interest या चक्रवृधी व्याज दुनिया का आठवां अजूबा है, जो इसे समझता है, वो कमाता (Earn) है, और जो इसे नहीं समझता वह भरता (Pay) है"

कोई भी इन्सान चाहे वह कितना ही साधारण क्यों न हो पॉवर ऑफ़ कंपाउंडिंग ( Power Of Compounding ) का प्रयोग करके सफल हो सकता है | आप भी इसे अपने जीवन में अप्लाई (प्रयोग ) करके निश्चित ही सफल हो सकते है |

उदहारण से समझे -

राम, श्याम और मोहन तीन दोस्त थे, तीनो ने एक साथ एक ही कम्पनी में काम की शुरुवात की थी | सभी 9 बजे ऑफिस काम पर जाते थे ?

राम को पॉवर ऑफ़ कंपाउंडिंग के बारे में जानकारी थी इसलिए वह रोज सुबह जल्दी उठ कर योग व सेल्फ इम्प्रोविंग किताबें पढ़ता था, और ऑफिस में थोड़ी सी ज्यादा काम करता थे इसलिए कभी कभी उसे लेट भी हो जाता था |

श्याम वक्त का पाबंद था, वह रोज सुबह 7 बजे उठता था फिर तैयार होकर ऑफिस निकल जाता था | ऑफिस का काम 5 बजे समाप्त करके वह घर आ जाता था |

जबकि मोहन रोज सुबह 8 बजे उठता था और फिर जल्दी जल्दी तैयार होकर काम पर निकल जाता है लेकिन ऑफिस में भी उसका मन काम पर नही लगता और वह काम समाप्त होने से पहले ही ऑफिस से निकल जाता था |

एक साल बाद जब तीनों के काम को जांचा परखा गया तो निरीक्षक ने पाया की राम ने अपने ऑफिस में सबसे अच्छा काम किया है, उसे प्रमोट करके मैनेजर बना दिया और उसकी तनख्वाह भी बढ़ा दी गयी |

जबकि श्याम वक्त का पाबंद था इसलिए उसका काम भी ठीक था उसकीं तनख्वाह में थोड़ी सी वृद्धि हुई |

लेकिन जब मोहन के कामों की जांच परख की गई तो पाया की उसने सालभर में बहुत काम किया है और ऑफिस में सबसे कम काम करने वाले के लिस्ट में उसका नाम पहले स्थान पर है इसलिए उसे कंपनी से निकाल दिया गया |

इस तरह एक ही कंपनी में एक साथ काम करने वाले तीन दोस्तों को पॉवर ऑफ़ कंपाउंडिंग का अलग अलग परिणाम मिला |

जिसने पॉवर ऑफ़ कंपाउंडिंग को समझा उसने कमाया , जिसने इसे नही समझा उसने खोया |

आप भी अपने जीवन में पॉवर ऑफ़ कंपाउंडिंग सही तरीके से करे और राम की तरह बने |

क्योंकि "बूंद-बूंद से ही घड़ा भरता है "  चाहे वह सफलता का हो या फिर असफलता का |
Read More

Jul 15, 2019

सबसे बेहतर इन्वेस्टमेंट ऑप्शन क्या है | Best Investment Options in Hindi

क्या आप जानते है? Best Investment Options/Plans कौन सा है ? आज इस पोस्ट में आपके सारे सवालो के मिलने वाले है तो इसे लास्ट तक जरुर पढ़े |

अलग- अलग लोग अलग- अलग चीजों में इन्वेस्ट करते है क्योंकि सभी लोगों का पसंद अलग अलग होता है | किसी को खाना अच्छा लगता है , किसी को गाना अच्छा लगता है | इसी प्रकार किसी सोना पसंद है तो किसी म्यूच्यूअल फण्ड या स्टॉक मार्किट इन्वेस्ट न करके रोना पसंद है | सबकी चॉइस अलग है | इश्वर ने सबको बनाया ही ऐसा है |

Best Investment Options in Hindi


मैं बेस्ट इन्वेस्टमेंट के बारे में बताने के बजाय खाना, गाना , सोना और रोना क्यों रो रहा हूँ | 

आपको ये बताना जरुरी था कि सब के पास अच्छे आप्शन होते है, लेकिन लोगों का पसंद ही ऐसा है कि वें रिस्क व ज्ञान लेते ही नही है |

चलो भी अब पकाना बंद करो और बताओ कि रिटर्न किसमें ज्यादा मिलता है | कुछ ऐसा ही तो नही सोच रहे न |
तो चलो फिर best investment plans के बारे में बता ही देता हूँ |

Best Investment Options/Plans in Hindi

इन्वेस्टमेन्ट आप्शन बहुत सारे है लेकिन मैंने जो जिक्र किया है (रिस्क, ज्ञान , व रिटर्न ) के आधार पर लोग अलग अलग आप्शन में इन्वेस्ट करते है |


फिक्स्ड डिपाजिट: सबसे आसन तरीका इन्वेस्ट करने का | बस बैंक में जाकर बोल दो "सर फिक्स्ड डिपाजिट " करना है | उसके बाद आपको 7 - 8 % का रिटर्न तो पक्का मिल जायेगा, लेकिन एक सीक्रेट बात बताता हूँ महंगाई दर 3% - 4% से बढ़ता है | महंगाई दर आपको दिखाई नही देगी लेकिन खा पूरा जाएगी | आपके पैसे की वैल्यू | और फिक्स्ड डिपाजिट के ब्याज दर में महंगाई दर घटा दो फिर जो बचेगा वो तुम्हारा |

रियल एस्टेट: जमींन जायदाद बोलते है शायद इसे | 8% - 9% तो रिटर्न दे देती है यह भी | लेकिन सोच समझ के खरीदना कमर्शियल एरिया व रेजिडेंशियल एरिया के हिसाब से मिलता है रिटर्न |

गोल्ड : आपको सोना है या आपको सोना चाहिए | लिखलो किसी कागज में वरना खो जाओगे सपने में | सोना 11% - 12% का रिटर्न देती है और सोना आभूषण तो है ही |

म्यूच्यूअल फंड:  फेसबुक में म्यूच्यूअल फ्रेंड और लाइफ में म्यूच्यूअल  फण्ड बहुत ही जरुरी  है | रिस्क जो कम हो जाता है | टेंशन ख़तम हो जाता है | कम रिटर्न व कम दोस्त होने का | म्यूच्यूअल फंड  15% - 16% का रिटर्न दे देता है | जो कि कम नही है | इससे आप स्टॉक मार्किट में भी पैसा लगा सकते हो | बिना किसी पढ़ाई व रिसेअर्च के | लेकिन थोड़े से रिस्की होते है ये म्यूच्यूअल फंड, पर आप फण्ड मैनेजर को बता कर रिस्क कम कर सकते  है | बहुत आप्शन है इसमें |

स्टॉक मार्केट: मैं न इसके बारे में बताने वाला ही नही था | क्योंकि बहुत से लोग सुनके ही डर जाते है | इसलिए मैंने इसको लास्ट में रखा है| इसमें रिटर्न ज्यादा मिलता है | 20% मिलता है | कई लोग तो रगड़ के बिज़नस का रिसर्च करने के बाद 35% तक ले आते है | रिटर्न | हैं न बहुत रिस्की | रिटर्न लाना | लेकिन 20% रिटर्न लाना भी बहुत संतोषजनक है | लम्बे समय में शेयर बाजार 100X (आपका पैसा 100 गुना  ) का रिटर्न भी दे सकती है

अब मेरा काम पूरा हो गया है, अब आपकी बारी है | ज्ञान बढ़ा के रिस्क कम | रिटर्न ज्यादा करने की| रुको एक बार और ज्ञान बढ़ा के रिस्क कम | रिटर्न ज्यादा करने की |
Read More

Apr 14, 2019

इनकम कैसे बढ़ाये | इनकम बढ़ाने के नये तरीक़े | Income Kaise Badhaye

Income Kaise Badhaye: क्या आप अपनी आमदनी या इनकम बढ़ाना चाहते है ? क्या आप भी अपनी मनपसंद चीजों को खरीदना और  यात्रायें करना चाहते है ? यंहा मैं आपको income बढ़ाने के कुछ सरल तरीकों के बारे में बताने वाला हूँ |

income kaise badhaye

इनकम कैसे बढ़ाये?

आय या इनकम बढ़ाना बहुत ही आसान है, इनकम बढाकर आप अपनी आवश्यकताओं कों पूरा कर सकते है आप विदेश यात्रायें कर सकते है, अपनी लाइफ को जीने के तरीकें में बदलाव ला सकते है, अपने परिवार को बहुत सारी खुशियाँ दे सकते है |

अगर आप income बढ़ाना चाहते है तो आपको थोड़े से प्रयास करने की जरूरत है जिससे आपके इनकम में निश्चित तौर पर वृद्धि होगी |

ये भी पढ़े:
कैश फ्लो कैसे बढ़ाये ?

इन बातोँ को ध्यान रखें

1. अगर आपके पास नौकरी है या आप काम नही करते है लेकिन समय सभी के पास 24 घंटे ही होते है, तो आपके पास जितना समय बचता है उसमें आप नये स्किल्स को सीखें जैसे- ब्लॉग्गिंग , वेबसाइट डेवलपमेंट या नये भाषाओं को सीखें | या आप जो करते है उसमें एक्सपर्ट बने और लोगो को सिखाएं |

2. अपने इनकम या आय का 10 प्रतिशत बचत करके निवेश करें | चाहें आपको इनकम किसी भी तरह से आ रहे हो | म्युचुअल फण्ड में निवेश तो आप 500 रूपयें से भी शुरु कर सकते है | यानि कि एसेट (संपत्ति) खरीदें |

3. इन्टरनेट का इस्तेमाल नये चीजों को सीखने के लिए भी करें ..और अपने कौशल को यूट्यूब चैनल व् फेसबुक पेज से लोगों तक पहुचाएं और आमदनी कमायें | ये दूसरा स्त्रोत है Income ज्यादा करने का |

4. नये चीजों को सीखने के लिए Google में खोजे या सर्च करे जैसेः

"यूट्यूब से पैसे कैसे कमाए "
"म्युचुअल फण्ड क्या है "
"फेसबुक से पैसे कैसे कमाए"
"शेयर बाजार से अमीर कैसे बनते है"

उपर के चारों बातें सही है, बहुत से लोग आज यूट्यूब, म्यूच्यूअल फण्ड,फेसबुक, शेयर बाजार से अच्छी इनकम कमा रहे है |

5. नये चीजों को सीखने के लिए जिज्ञासा रखें और गूगल का प्रयोग अवश्य करें

6. अपने आपको एक ब्राण्ड बनाओं ..और सभी सोशल मीडिया में कंटेंट बनाकर शेयर करें


Read More

Apr 8, 2019

कैशफ़्लो कैसे बढ़ाये | Cash Flow in Hindi

Cash Flow in Hindi: क्या आपका Cashflow बढ़ रहा है? दुनिया में अमीरों की संख्या कम क्यों है और उनके पास इतना Cashflow कैसे आता है ? मैं आज Cashflow को बढ़ाने के तरीकें बताने वाला हूँ जिससे आप Cashflow को आसानी से बढ़ा सकते है |

Cash Flow in Hindi


कुछ समय पहले तक मैं इस बात से अनजान था कि अमीरों के पास इतना पैसा कहा आता से है | अमीरों लोग ऐसा क्या जानते है जो माध्यम वर्ग व निम्न वर्ग के लोगों को पता नही होता है | क्या अमीरों के पास पैसो का पेड़ होता है ?

एक ऐसा पेड़ जिसमें फल की जगह पर पैसे निकलते है और जब भी अमीरों को पैसा चाहिए तो वे उस पेड़ से तोड़ लेते है |

लेकिन अमीर लोगों के पास पैसों के पेड़ का बीज कहा से आया , क्या यह पैसो का पेड़ आम के पेड़ की तरह दिखते है जिसमे हरे आम की जगह हरे नोट फलते है |

Cashflow कैसे बढ़ाये?

Cashflow बढ़ाने के लिए आपको पैसों के पेड़ के बीजों को बोना होता है यह बीज हर किसी के पास होता है और यह आपके पास भी है | हर कोई इन बीजों को लगाकर उसें सींचकर बड़ा करके अपना cashflow बढाकर एक अमीर इंसान बन सकता है|

आप भी एक अमीर इंसान बन सकते है बशर्तें आपने पैसों के पेड़ का वह बीज लगायें हो | अगर आपने अभी तक पेड़ नही लगाया है तो आज ही लगाये क्योंकि बीज आपके पास है |

पैसों के पेड़ का बीज बचत (Saving ) करना है जिसे आप आसानी से कर सकतें है और बचत के बाद जो  भी पैसा आपके पास एकत्र होता है उससे आपको संपत्ति खरीदना है |

ये भी पढ़े:
इनकम कैसे बढ़ाये | Income Kaise Badhaye?

संपत्ति क्या है ?

हर एक चीज है जो आपके पॉकेट या जेब में कैश या पैसा डालती है उसे संपत्ति कहते है | जब आप संपत्ति खरीदते है संपत्ति आपके लिए काम करना शुरु कर देती है |

संपत्ति कई तरह के होते है कुछ संपत्ति तो आप पहले ही खरीद चुकें होंगे |
  • जमीन या रियल एस्टेट
  • सोना 
  • फिक्स्ड डिपोजिट
  • म्युचुअल फण्ड
  • शेयर बाजार
इन सम्पत्तियों के पास अदृश्य हाथ होते है जो हमें आपको भलें ही दिखाई न देते हो लेकिन वे हमारें लिए काम करते है | आप जितने ज्यादा संपत्ति खरीदेंगे आपके पास उतने ज्यादा अदृश्य हाथ होंगे जो केवल आपके लिए काम करेंगे |

संपत्ति ही वह साधन है जो आपके कैश flow को बढ़ाने में मदद करती है लेकिन संपत्ति खरीदने के लिए आपको बचत करना जरुरी है | आज से ही बचत शुरू करें और संपत्ति ख़रीदे |

इस पोस्ट को उन लोगों तक पहुचाएं जिनका cashflow आप बढ़ाना पसंद करेंगे :)
Read More

Mar 31, 2019

कैश फ्लो क्या है | Cash Flow in Hindi

क्या आप जानते है? Cash flow क्या है ? कैश फ्लो किस दिशा में होता है? आप अपनी तरफ कैश के flow को ज्यादा कैसे कर सकते हैं ?

cash flow

Cash या Money की आवश्यकता

आपके या मेरे जीवन की दैनिक जरूरत जैसेः रोटी, कपड़ा, व् मकान आदि के लिए money या cash कि आवश्यकता होती है |  प्राथमिक सुविधाए स्वास्थ, शिक्षा , परिवहन आदि के लिए भी पैसे लगते है |

आवश्यकतायें कभी भी कम नही होती है इसलिए हम सबको ज्यादा से ज्यादा cash बनाना चाहिए लेकिन अगर आप नही जानते है कि कैश flow किस दिशा में होती है तो आप ज्यादा cash flow अपने तरफ कैसे करेंगे |

Cash Flow क्या है?

Cash या पैसा आपके पास किस तरह आता है और किस तरह चला जाता है इस पूरी क्रिया को ही cash flow कहा जाता है |
cash flow से हमें यह भी पता चलता है कि इनकम , खर्च, संपत्ति , व् दायित्व क्या है, इन सबको हम नीचें चर्चा करेंगे |

Cash Flow की दिशा

कैश फ्लो दो दिशाओं में होती हैं -

Cash Outflow: कैश आउटफ्लो का मतलब है पैसा आपसे दूर जाता है | आपसे पैसा दूर इसलिए जाता है क्योंकि आप सम्पति न खरीद कर दायित्व खरीदते है जिसकी आपको जरुरत भी नही होती है |

Cash Inflow: कैश इनफ्लो का मतलब है पैसा आपकी तरफ आता है | कैश इनफ्लो के बहुत से तरीकें है जिससें आपके पास ज्यादा पैसे आतें है और जिसकी वजह से आप धनवान बनते जाते है | आपके पास इनकम आने के केवल चार रास्ते है -
  • बिजनेस से
  • इन्वेस्टिंग से
  • खुद का बिजनेस से (जैसे बढ़ाई, डॉक्टर, वकील, आदि )
  • नौकरी से
लेकिन अपने पास ज्यादा पैसा लाने के लिए आपको संम्पत्ति खरीदनी होती है |

cashflow kaise badhaye

संपत्ति और दायित्व क्या है?

दायित्व का अर्थ होता है जो आपके जेब या पॉकेट से पैसे खर्च कराता है- जैसेः अनावश्यक चीजों को खरीदना जिसकी जरुरत ही नही है | जैसे कपडें होने पर भी कपडें खरीदना या  एक स्मार्टफोन होने पर भी दूसरा स्मार्टफोन खरीदना आदि |

संम्पति का अर्थ होता है जो आपके जेब या पॉकेट में पैसा डालता या इनकम करता है क्योकिं संपत्ति आपके लिए काम करती है | संपत्ति कई प्रकार के होते है जिनसे आप अपने जेब में ज्यादा पैसे डाल सकते है |
  • बचत करना
  • फिक्स्ड डिपोजिट करना
  • रियल एस्टेट या जमीन खरीदना
  • म्युचुअल फण्ड में निवेश करना
  • स्टॉक मार्केट में निवेश करना
अगर आप भी ज्यादा कैश अपनी तरफ लाना चाहते है तो आप थोड़ा थोड़ा बचत करना शुरू करें और उन पैसों से सम्पति खरीदते रहे क्योंकि जब आप संपत्ति खरीदते है तो संपतिया आपको कमा कर देती है |

इस पोस्ट को उन लोगों को भेजें जिन्हें आप Cash Flow के बारे में सिखाना चाहेंगे :)
Read More

Jan 8, 2019

नेटवर्थ क्या होता है | अमिताभ बच्चन ने क्या कहा है जानिए | Net Worth in Hindi

क्या आप जानते है? Net worth का meaning क्या है? आपकी कितनी NetWorth है? और इसे कैलकुलेट करने के लिए आप नीचें दिए Net worth Formula का use कैसे करेंगे |
Net Worth meaning in hindi

Net Worth Meaning in Hindi

Net worth को समझने के लिए हम इसके दोनों शब्दों को अलग करेंगे -

Net = शुद्ध
Worth = सम्पति 

अर्थात इसका मतलब शुद्ध सम्पति है

इकोनॉमिक्स टाइम्स के अनुसार
नेट वर्थ किसी व्यक्ति या कंपनी की संपत्ति और दायित्व के बीच का अंतर है। 
इसका उपयोग तो कम्पनी, व्यक्ति , संस्था आदि के साथ किया जाता है जो उस कम्पनी , व्यक्ति या संस्था के आर्थिक स्थितियों को बताता है |
अब सवाल ये उठता है कि कम्पनी, व्यक्ति या संस्था की शुद्ध सम्पति क्या होती है |

कम्पनी, व्यक्ति या किसी संस्था का Net worth उनकी कुल सम्पति (Total Asset) में कुल दायित्व (Total Libelities) में घटाने से प्राप्त होता है |

आपने अक्सर तरह तरह के माध्यमों से चाहे वह टीवी , रेडियो, या फिर समाचार पत्रों में हो, किसी कम्पनी , फिल्म स्टार्स , स्पोर्ट्स पर्सन(खिलाडियों ) के Net worth के बारे में सुना होगा |

अगर आप किसी कम्पनी या सेलिब्रेटीज का आर्थिक स्थिति (Financial Position ) के बारे में जानना चाहते है तो आपको उस कम्पनी या सेलिब्रिटीज का Net worth कैलकुलेट करना होगा |

Networth की गणना

Net worth की गणना करना बहुत ही आसान है अगर आपको जोड़ना व घटाना आता है तो आप आसानी से Net worth कैलकुलेट कर सकते है |

नोट: यह फार्मूला स्टॉक मार्केट की किसी कंपनी के नेट वर्थ को जानने के लिए आप प्रयोग कर सकते है |


Net Worth = (Total Asset -Total Liabilities)
नेट वर्थ = कुल सम्पति – कुल दायित्व

यहाँ पर आपको net worth कैलकुलेट करने के लिए कुल सम्पति व कुल दायित्व को जानना आवश्यक है क्योंकि इनके बिना आप किसी व्यक्ति या कम्पनी का नेट वर्थ नही निकाल सकते है |

कुल सम्पति : सबसे पहले आपको सभी सम्पतियों का लिस्ट बनाना होगा अगर आपने अमिताभ बच्चन की डायलॉग सुनी हो "आज मेरे पास गाड़ी है , बंगला है , बैंक बैलेंस है तुम्हारे पास क्या है? " तो आप आसानी से कुल सम्पतियो की लिस्ट बना सकते हो |

कुल सम्पति में  जमीन , प्लांट , बैंक बैलेंस, इन्वेस्टमेंट, स्टॉक, म्यूच्यूअल फंड्स , गाड़ी, बंगला सब को शामिल किया है |

कुल दायित्व : कुल दायित्व में किसी भी प्रकार का लोन (कार लोन , गोल्ड लोन , होम लोन आदि ) को शामिल किया जाता है |

उदहारण के लिए हमने माना कि एक कंपनी का कुल सम्पति 1000 करोड़ है व कुल दायित्व 700 करोड़ है 
तो उस कम्पनी का नेट वर्थ होगा -

300 करोड़ = 1000 करोड़  – 700 करोड़

इस प्रकार हम कह सकते है कि उस कम्पनी की नेट वर्थ 300 करोड़ है |

Read More